10 साल तक देश का बढ़ाया मान, अब आर्थिक तंगी और सिस्टम ने तोड़ी कमर, मेडल बेचकर राशन लाने को मजबूर हुआ यह दिव्यांग एथलीट - News of States

Breaking News

10 साल तक देश का बढ़ाया मान, अब आर्थिक तंगी और सिस्टम ने तोड़ी कमर, मेडल बेचकर राशन लाने को मजबूर हुआ यह दिव्यांग एथलीट

0 0

लगातार दस साल तक राष्ट्रीय पैरा एथलेटिक्स चैंपियनशिप में देश का प्रतिनिधित्व करनेवाले धनबाद के दिव्यांग एथलीट अजय कुमार पासवान और उनका परिवार दाने-दाने को मोहताज है। घर की आर्थिक स्थिति ऐसी है कि अब अजय अपने मेडल बेचकर राशन खरीदने की तैयारी कर रहे हैं।

धनबाद के कतरास इलाके के मलकेरा बस्ती निवासी अजय दिव्यांग होने के बावजूद खेलकूद में अव्वल रहे और धीरे-धीरे एथलीट बन गए। अपने 10 साल के करियर में उन्होंने राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में 100 मीटर, 200 मीटर और 400 मीटर की दौड़ में कई मेडल अपने नाम किए।

झारखंड का नाम रोशन करनेवाला यह बेहतरीन राष्ट्रीय पैरा एथलीट आज आर्थिक तंगी और सिस्टम के आगे बेबस है। अपनी दिव्यांगता की वजह से अजय ठीक से बोलने में असमर्थ हैं, लेकिन टूटी-फूटी बात करते हुए कहते हैं कि सरकार को हमारे जैसे खिलाड़ियों के बारे में भी सोचना चाहिए। मेडल जीतने के बाद भी आजतक कोई सरकारी सहायता नहीं मिली। कोई सरकारी अधिकारी आज तक झांकने नहीं आए।

अजय के परिवार की स्थिति यह है कि छोटा भाई घर-घर पानी पहुंचा कर छह सदस्यों का परिवार चला रहा है। अजय ने कहा कि अब वह अपने घर का खर्च चलाने के लिए जीते हुए मेडल बेचेंगे। इससे जो भी पैसे मिलेंगे, उससे घर का खर्च तो चलेगा।

Source : Hindustan

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

%d bloggers like this: