ऑनर किलिंग: गोड्डा से बरामद शव मालदा की ओलकी का निकला, हत्या के आरोप में पिता, चाचा और फुफा समेत 8 गिरफ्तार - News of States

Breaking News

ऑनर किलिंग: गोड्डा से बरामद शव मालदा की ओलकी का निकला, हत्या के आरोप में पिता, चाचा और फुफा समेत 8 गिरफ्तार

0 0

13 जुलाई, 2021 को गोड्डा के पथरगामा थाना क्षेत्र में जमजोरी पोखर में बोरे में बंद जिस अज्ञात महिला का शव बरामद किया गया था, वह कोई और नहीं बल्कि पश्चिम बंगाल के मालदा जिले की युवती ओलकी थी। ओलकी की हत्या उसके फूफा पथरगामा के गांधीग्राम निवासी संजीव यादव के घर पर की गई। इसके बाद बोरे में भरकर शव का ठिकाने लगा दिया गया। जांच में यह मामला ऑनर किलिंग का निकला है। पुलिस ने ओलकी के पिता और फुफा समेत 8 लोगों को गिरफ्तार किया है।

घर वाले ओलकी के प्रेम संबंध से थे नाराज

ऑनर किलिंग की वारदात की पृष्ठभूमि ओलकी के फुफा के घर में तैयार हुई। मालदा से युवती को गांधीग्राम बुलाकर उसे मौत के घाट उतार दिया गया। पथरगामा थाना प्रभारी बलिराम रावत को इसकी गुप्त सूचना मिली थी कि मालदा जिले के गजौल थाना क्षेत्र के सान चेनमोना गांव की लड़की ओलकी की मौत हुई है। लड़की सान चेनमोना गांव के रूपचंद मंडल नामक युवक के प्रेम में पागल थी। घर वाले इस रिश्ते को स्वीकार नहीं कर रहे थे। लड़की के पिता घनश्याम यादव ने अपने बहनोई गांधीग्राम के संजीव यादव के साथ मिलकर ओलकी की हत्या की योजना बनाई और युवती और उसके प्रेमी रूपचंद को बहला फुसलाकर मालदा से गांधीग्राम लाया। रास्ते में ही रूपचंद को मारपीट कर भगा दिया गया और ओलकी को यह विश्वास दिलाया कि उसकी शादी रूपचंद से गांधीग्राम में करा दी जाएगी। गांधीग्राम आने के बाद ओलकी की हत्या कर दी गई और तीन दिन तक शव को घर पर ही रखा। इसमें लड़की के चाचा सुंदर यादव की भूमिका अहम थी।

झारखंड और पश्चिम बंगाल पुलिस ने की कार्रवाई 

लड़की के चाचा सुंदर यादव को पश्चिम बंगाल बंगाल पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उसने अपना जुर्म भी कबूल लिया है। कॉल डिटेल के अनुसार सुंदर यादव गांधीग्राम आया था। युवती की हत्या की पूरी कहानी जानने के बाद पुलिस ने शुक्रवार की रात एक साथ मालदा और गांधीग्राम में छापेमारी कर कुल आठ हत्यारोपितों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपितों में लड़की का फूफा गांधीग्राम निवासी संजीव यादव, उसके पिता राजेंद्र यादव और संजीव की पत्नी, बच्चे सहित महुआसोल निवासी राजेंद्र यादव शामिल है। मालदा से गिरफ्तार सुंदर यादव ने हत्या की बात कबूली है। लड़की के फुआ संजीव यादव की पत्नी अर्थात लड़की की बुआ की भी संलिप्तता स्वीकारी है l

थानेदार ने पुलिस अधीक्षक को बताई कहानी

पथरगामा थाना प्रभारी बलिराम रावत पिछले कुछ दिनों से लगातार इस मर्डर मिस्ट्री पर काम कर रहे थे। अज्ञात शव की पड़ताल में मिले सुराग के बाद उन्होंने पुलिस अधीक्षक से संपर्क स्थापित कर सारी कहानी उन्हें बताई। इसके बाद योजनाबद्ध तरीके से शुक्रवार की रात एक साथ गांधीग्राम में और बंगाल पुलिस की मदद से मालदा के साम चेनमोना गांव में ताबड़तोड़ छापेमारी कर कुल आठ लोगों को गिरफ्तार किया गया।

Source : Dainik Jagran

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

%d bloggers like this: