चीन ने पाकिस्तान को दिखाई औकात: बताया कौन है असली बॉस, बस धमाके की जांच के लिए भेजी टीम - News of States

Breaking News

चीन ने पाकिस्तान को दिखाई औकात: बताया कौन है असली बॉस, बस धमाके की जांच के लिए भेजी टीम

0 0

चीन ने पाकिस्तान में बीते सप्ताह बस में हुए बम धमाके के बाद घटना की जांच के लिए एक टीम भेजी है। इस बम धमाके में बस में सवार 13 लोगों की मौत हो गई थी, जिसमें चीन के 9 इंजीनियर भी शामिल थे। भले ही पाकिस्तान की ओर से इस धमाके को घटना या फिर गैस लीक बताया जा रहा है, लेकिन चीन ने इसे सीधे तौर पर ‘आतंकी हमला’ करार दिया है। बस में चीन के 40 इंजीनियर, सर्वेयर और मकेनिकल स्टाफ शामिल थे। ये सभी लोग पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा में चाइना पाकिस्तान कॉरिडोर के तहत बन रहे एक डैम का काम देख रहे थे। इस घटना में 28 लोग जख्मी भी हुए थे।

बीते सप्ताह बुधवार को हुई घटना के बाद चीन ने पाकिस्तान से मामले की गहनता से जांच करने और दोषियों को सजा देने की अपील की थी। लेकिन अगले ही दिन से चीन ने इस घटना को आतंकी हमला बताते हुए कहा कि इसकी कड़ी जांच होनी चाहिए। यही नहीं बाद में शनिवार को चीन ने अपनी ओर से टीम भेजने का भी ऐलान कर दिया। चीन के पब्लिक सिक्योरिटी मिनिस्टर झाओ केझी ने कहा कि सत्य का पता लगाने के लिए चीन और पााकिस्तान मिलकर काम करेंगे। उन्होंने कहा कि बीजिंग की ओर से क्रिमिनल इन्वेस्टिगेशन करने वाले टेक्निकल एक्सपर्ट्स को पाकिस्तान भेजा है ताकि वे वहां के स्थानीय जांचकर्ताओं की मदद कर सकें।

चीन की पाक को नसीहत, हमारे नागरिकों को दो पूरी सुरक्षा, नहीं होनी चाहिए चूक

चीन की ओर से पाकिस्तान को नसीहत भी दी गई है कि वे अपने देश में चीनी नागरिकों की पूरी सुरक्षा करे। भले ही चीन की ओर से पाकिस्तान को सदाबहार दोस्त कहा जाता रहा है, लेकिन अपने ही नागरिकों की मौत के बाद से रिश्तों में तनाव साफ दिखा है। खुद चीन की ओर से जांचकर्ता भेजे जाने से साफ है कि उसे पाकिस्तानी एजेंसियों पर भरोसा नहीं रहा है और वह खुद को ही बॉस मानता है। चीन की ओर से पाकिस्तान जांच टीम भेजना उसकी संप्रभुता के भी खिलाफ माना जा रहा है। चाइना पाकिस्तान इकनॉमिक कॉरिडोर के तहत पाकिस्तान में चीन की ओर से तमाम प्रोजेक्ट्स तैयार किए जा रहे हैं। इनमें अरबों डॉलर की रकम चीन की ओर से लगाई गई है।

अप्रैल में भी हुआ था हमला, बाल-बाल बचे थे चीन के राजदूत

बता दें कि इसी साल अप्रैल महीने में पाकिस्तान के बलूचिस्तान में एक होटल में आत्मघाती धमाका हुआ था। इस हमले में 4 लोगों की मौत हुई थी और दर्जनों लोग घायल हुए थे। हमले के दौरान होटल में चीन के राजदूत भी मौजूद थे, लेकिन वह इस घटना में बच गए थे। तब भी चीन की ओर से चिंता जताई गई थी।

Source : Hindustan

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

%d bloggers like this: