Breaking News

Jharkhand: विधायक खरीदने निकले मजदूर और फल विक्रेता, दो लाख बरामद, तीन गिरफ्तार

0 0

सत्ताधारी विधायकों की खरीद-फरोख्त कर झारखंड सरकार को गिराने (अपदस्थ करने) के आरोप में रांची की कोतवाली पुलिस ने शनिवार को तीन लोगों को गिरफ्तार किया. इनमें अभिषेक दुबे (पलामू), अमित सिंह (बोकारो) व निवारण प्रसाद महतो (बोकारो) शामिल हैं. इनकी गिरफ्तारी कोतवाली थाना क्षेत्र के होटल ली-लैक से करने का दावा पुलिस ने किया है.

मीडिया से बातचीत में निवारण महतो के रिश्तेदार सोनू ने कहा कि दोनों को गुरुवार को बोकारो से पुलिस ने उठाया था, जबकि अभिषेक दुबे की बहन भावना का कहना था कि इनके भाई को किसी ने फोन कर एक होटल में गुरुवार को बुलाया था. उसी समय पुलिस ने छापेमारी कर भाई को गिरफ्तार कर लिया. कोतवाली पुलिस ने तीनों को अप्राथमिक अभियुक्त बनाया है.

पुलिस ने होटल के सीसीटीवी फुटेज भी पेन ड्राइव में लिया है, जबकि इनके साथी घटनास्थल पर तीन ट्रॉली बैग सहित अन्य सामान छोड़कर भागने में सफल रहे. जिसे पुलिस ने जब्त किया है. गिरफ्तार अभियुक्तों के पास से मामले में उपयोग किये गये मोबाइल और दो लाख रुपये बरामद किये गये हैं. पुलिस ने दावा किया है कि तीनों ने अपना अपराध स्वीकार किया है.

स्थानीय विधायकों के साथ इनकी हवाई यात्रा के टिकट का पीएनआर नंबर बताया गया है. लेकिन विधायक के नाम का जिक्र नहीं किया गया है. इस मामले में कांग्रेस के बेरमो से विधायक जयमंगल सिंह उर्फ अनूप सिंह की शिकायत पर आइपीसी की धारा 419, 420, 124-ए, 120 बी, 34 और 171 (बी)आर.पी एक्ट एंड 8/9 पीसी एक्ट की धारा के तहत 22 जुलाई 2021 को काेतवाली थाना में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी थी. वहीं दूसरी ओर कोतवाली पुलिस ने कोरोना जांच के बाद तीनों आरोपियों को प्रभारी सीजेएम वैशाली श्रीवास्तव की अदालत में पेश किया, जहां से उन्हें सात अगस्त तक के लिए न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया.

इनको किया गया गिरफ्तार :

  • अभिषेक दुबे, पिता : ब्रजेश कुमार दुबे : मूल रूप से पलामू के जपला सीमेंट फैक्ट्री के समीप, हुसैनाबाद का निवासी है. यह रांची के पिस्का मोड़ के चौधरी नर्सिंग होम, देवी मंडप रोड के जगदीश इंक्लेव, बी/2-44 नंबर फ्लैट में रहता था.
  • अमित सिंह : वर्तमान पता : सेक्टर-2सी, क्वार्टर नंबर-4-008 बोकारो. यह बिहार के सीवान जिले के बिठुना का मूल निवासी है.
  • निवारण महतो, पिता- स्वर्गीय कैलाश चंद्र महतो, वर्तमान पता : सेक्टर-12सी, क्वार्टर नंबर 3199, थाना सेक्टर-12, बोकारो. यह मूल रूप से बोकारो जिले के चिटाही बस्ती, थाना हरला-9 का निवासी है.

मामले में तीन लोग गिरफ्तार, सात तक भेजा गया न्यायिक हिरासत में

  • अमित सिंह और निवारण महतो को गुरुवार को बोकारो से पुलिस ने उठाया था
  • गुरुवार को ही किसी ने फोन कर अभिषेक दुबे को होटल ली-लैक बुलाया था
  • बेरमो विधायक जयमंगल उर्फ अनूप सिंह ने 22 जुलाई को कोतवाली थाने में दर्ज करायी प्राथमिकी

गिरफ्तार लोगों में कौन क्या करता है

  1. अभिषेक दुबे (पलामू) : इंजीनियरिंग किया हुआ है, इसके पिता ब्रजेश दुबे की पलामू में जनवितरण प्रणाली की दुकान है. रांची के पिस्का मोड़ में सेल्स टैक्स अफसर के किराये के मकान में रहता है.
  2. अमित सिंह (बोकारो) : बीएसएल में ठेका मजदूर के तौर पर करता है काम
  3. निवारण प्रसाद महतो (बोकारो) : फल व सब्जी बेचने धंधा करता है, 2019 में लड़ा था विस चुनाव

अभिषेक दुबे किसी विधायक के साथ गया था दिल्ली: अभिषेक की बहन शनिवार काे काेतवाली थाना भी आयी थी. उसने पुलिस के प्रति नाराजगी भी जाहिर की कि भाई को दो दिन पहले गिरफ्तार किया गया, फिर उसे जेल ले जाने के समय क्यों सूचना दी गयी. भावना का कहना था कि उसका भाई किसी विधायक के साथ दिल्ली गया था. लेकिन विधायक के नाम का खुलासा नहीं किया.

ट्रेनी दारोगा को बनाया अनुसंधानकर्ता: इस मामले में ट्रेनी दारोगा कमलेश राय को अनुसंधानकर्ता बनाया गया है, जबकि पुलिस मुख्यालय से स्पष्ट निर्देश है कि गंभीर प्रकृति के मामलों में खुद थाना प्रभारी या किसी वरीय पुलिस अफसर को अनुसंधानकर्ता बनाया जाये.

विधायक ने थाना को दी शिकायत में क्या कहा: विधायक ने शिकायत में कहा-झारखंड की झामुमो, कांग्रेस व राजद गंठबंधन की हेमंत सोरेन सरकार को अस्थिर करने की सूचना कई महीनों से चली आ रही है. कई विधायकों की छवि धूमिल करने की कोशिश की जा रही है. इसी क्रम में मुझे जानकारी मिली, वह हैरान करनेवाली थी. कुछ लोग राजनीति षड्यंत्र को अंजाम देने के लिए रांची में कैंप किये हुए हैं और हवाला के जरिये बड़े पैमाने पर लेन-देन की सूचना मिली है.

इसी क्रम में यह भी सूचना मिली कि सत्तारुद्ध दल के विधायकों की खरीद-फरोख्त के लिए बातचीत चल रही है, ताकि कुछ विधायकों को प्रलोभन से तोड़कर सरकार गिरायी जा सके. मुझे यह जानकारी है कि कुछ रसूखदार लोग (फाइनांसर) छद्म नाम से कई होटलों में ठहरे हुए हैं. वे विधायकों से संपर्क की कोशिश में हैं, ताकि उनको प्रलोभन देकर सरकार को गिराने की कार्रवाई को अंजाम दिया जा सके. उपरोक्त सूचना पर कार्रवाई की जाये.

सरकार को अस्थिर करने की साजिश : झामुमो

झामुमो ने आरोप लगाया है कि झारखंड में सरकार को अस्थिर करने की साजिश रची गयी. पार्टी के केंद्रीय महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि इस मामले में पुलिस जांच कर रही है. प्रतीत होता है कि झारखंड में स्थिर सरकार को अस्थिर करने की साजि‌श रची गयी.

नेताओं के कॉल आये हैं पकड़े गये लोगों के नंबर पर : अनूप

बेरमो विधायक कुमार जयमंगल उर्फ अनूप सिंह ने सवाल उठाया है कि क्या फल-सब्जी बेचनेवाला फाइव स्टार होटल में रुक सकता है? उनके मोबाइल पर कई नेताओं के फोन कैसे आये हैं? जो लोग इसमें शामिल हैं, वे चार-पांच विधायकों के संपर्क में थे. विधायकों को बड़ा ऑफर था.

Source : Prabhat Khabar

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
100 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

%d bloggers like this: